Pawni Pandey Profile | “Laila Main Laila” Singer’s Contact details (Phone number, Facebook)

Pawni Pandey aka “Pavni Pandey” “Laila Main Laila” Raees Song (Shahrukh Khan and Sunny leone) Singer Wiki, Bio Profile | Contact details (Phone number, Facebook)- Pawni Pandey is an Indian Singer who rose to fame as a Contestant of “Sa Re Ga Ma Little Champ” Reality singing show. Recently, this sweet girl is viral with her latest hit song “Laila Main Laila” starring Hot diva Sunny Leone. This song is composed by Ram Sampath for Shah Rukh Khan’s upcoming movie “Raees”. Pawni has an amazing voice and she does full justice to this legendary song. Here are some authentic details about this beautiful singer.

Personal Profile:

  • Name: Pawni Pandey
  • Date of Birth: 20th July 1992
  • Age: 30 years
  • Sun-Sign: Cancer
  • Boyfriend: N/A
  • Birth Place: Jaipur, Rajasthan
  • Current Residence: Mumbai
  • Occupation: Singer
  • Nationality: Indian

Contact Details:

INSTAGRAM: pawniapandey

We have mentioned her Instagram ID link above and the Id is Authentic and Verified. If you want to follow her then you can use the above username.

Facebook: @pawnipande

She has an account on Facebook where she has shared her videos with her fans. To get updates you can search for the above-written address on Facebook.

Twitter: @pawniapandey

She has an account on Twitter where she tweets. To get updates you can search for the above-written address on Twitter.

YouTube: @ThePawnipande

Pawni has her YouTube channel where she posted her latest musical videos and live shows. You can watch her videos and leave a comment on one of her YouTube Video.

Phone Number: N/A

Permission is not granted to access her phone number.

Other Famous singers:

Comment below with your views about Pawni Pandey.

8 thoughts on “Pawni Pandey Profile | “Laila Main Laila” Singer’s Contact details (Phone number, Facebook)”

  1. Hello maim hiiiiii
    Maim jab aao SRGMP pe
    Laila me laila Rita me sath
    Gaye the kasam she dil me bhitar
    Gudgudi macha diya really

    Reply
  2. मैं रांची विश्वविद्यालय रांची में भूगोल विषय का प्रोफेसर हूँ। साहित्य में भी रूचि है। कहानी, कविता , गीत लिखता हूँ।
    अभी मैंने एक गीत लिखा है । बहुत ही अच्छा है ।इसका नाम मैंने रखा है, ‘झारखण्ड गीत’। मैं चाहता हूँ आप इसे गाएँ। इसमें संगीत डालने ले लिए कलाकार भी आप ही चुने। मैं यह सब नहीं कर सकता। लेकिन इतना तय है कि अगर यह गीत ढंग से फिल्माया गया तो निश्चय ही एक सर्वकालिक गीत इस राज्य को मिलेगा। आप सभी झारखण्ड वासियों के ह्रदय में राज
    करेंगी।यह गीत भी अमर गीत बन जायेगा।

    Reply
  3. झारखण्ड गीत
    बोलो झारखण्ड जोहार

    बैद्यनाथ की पुण्य भूमि यह
    भारत का रत्नागर,
    बोलो झारखण्ड जोहार,
    बोलो झारखण्ड जोहार।।0।। 2

    रिसा से मदरा मुंडा तक
    थी उनकी राजधानी,
    पुण्डरीक नाग की जन्म भूमि
    यह अमर है वंश कहानी,
    सिद्धू कानू चाँद भैरव की
    सहन शक्ति जब टूटी,
    सन संतावन से पहले
    विद्रोह यहीं थी फूटी,
    चूल हिला दी अंग्रेजों की
    बिरसा की हुंकार।। बोलो झारखण्ड जोहार……

    पारसनाथ सम्मेद शिखर
    निर्वाण भूमि है भाई,
    कोटिशिलवा बुद्ध भमि
    जहाँ भद्रकाली हैं माई,
    जोन्हा हुंडरू दशम हिरनी
    झर-झर झरते झरने,
    हाथी हिरण विचरण करते
    अभ्यारण्य हैं कितने,
    कोयला लोहा माणिक पन्ना
    सोना हीरा का भंडार।।0।। बोलो झारखण्ड जोहार…….

    कल-कल बहती नदियाँ देखो
    कोयल- कारो न्यारी,
    स्वर्णरेखा मयूराक्षी यहाँ हैं
    छल-छल करती प्यारी,
    नद दामोदर भ्रंश घाटी में
    घहर-घहर गहराता,
    ऊँची-नीची भूमि हमारी
    फिर भी पार उतरता,
    धरती माँ के चरण पखारे
    इन नदियों की धार।।0।। बोलो झारखण्ड जोहार…….

    बड़े-बड़े हैं बाँध यहाँ पर
    वरुण देव आगार,
    कन्हर, कुटकु, कोयल, करो,
    मसानजोर, कोनार,
    मैथन, बलपहाड़ी, अय्यर,
    पंचेत और तिलैया,
    बिजली उपजे मछली पलते
    बाढ़ रोकते भैया,
    वहुद्देशीय योजनाएँ कितनी
    यूँ कल्पना हुईं साकार।।0।। बोलो झारखण्ड जोहार……..

    साहेबगंज से मंझगाँव तक
    नजर घुमा लो भाई,
    पाकुड़ से धुरकी प्रखंड तक
    ध्यान से देखो भाई,
    जितने देवी देवता मेरे
    झारखण्ड के प्यारे
    मंदिर मस्जिद गुरुद्वारा
    और गिरिजाघर हैं न्यारे,
    सरना सरना जोहार करे
    और गावे राम कुमार।।बोलो झारखण्ड जोहार……..

    रचना – डॉ. राम कुमार तिवारी
    राम कुटिर, अरसंडे,
    पोस्ट-, बोड़ेया, राची।

    Reply

Leave a Comment